पूंजीपतियों की है मोदी सरकार: बहन मायावती जी

पूंजीपतियों की है मोदी सरकार: बहन मायावती जी

बीएसपी मुखिया बहन मायावती जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपनी सरकार के एक महीने के कार्यकाल में लिए गए फैसलों के राष्ट्रहित में होने के दावे को खारिज करते हुए उन्हें लोकहित और न्यायहित के खिलाफ बताया है। बहन मायावती जी ने कहा, ‘यदि मोदी सरकार के फैसले राष्ट्रहित में हैं तो फिर वे लोकहित और न्यायहित के खिलाफ क्यों गए हैं?

बहन मायावती जी ने कहा, ‘यदि मोदी सरकार के फैसले राष्ट्रहित में हैं तो रेल किराए में बढ़ोतरी करके लोकहित और देश के प्रतिष्ठित न्यायविदों में से एक गोपाल सुब्रमण्यम को माननीय सुप्रीम कोर्ट का जज बनाने का विरोध करने का न्यायहित विरोधी फैसला क्यों लिया गया? उन्होंने सवाल किया है कि आखिर मोदी सरकार के राष्ट्रहित का लोेेकहित और न्यायहित से ऐसा टकराव क्यों है?

बहन मायावती जी ने सरकार के एक महीने पूरे होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जनता को संबोधित ब्लॉग का जिक्र करते हुए कहा, ‘मोदी ने अपने ब्लॉग में चूंकि प्रतिपक्षियों की भी आलोचना की है, इसलिए बीएसपी (बीएसपी) को भी अपनी सख्त प्रतिक्रिया देनी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि मोदी ने चुनाव के दौरान देश की 125 करोड़ जनता को महंगाई और भ्रष्टाचार से राहत दिलाने का वादा किया था , मगर इन मुद्दों के मामले में मोदी सरकार सख्त और प्रभावपूर्ण होती दीख नहीं रही है।

बीजेपी पर हमेशा ही जमाखोरों, कालाबाजारियों और मुनाफाखोरों के खिलाफ नरम रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए बहन मायावती जी ने कहा, ‘कांग्रेस और बीजेपी की आर्थिक नीति पूरी तरह से गलत और गरीब विरोधी रही है। बीजेपी की नीति बड़े पूंजीपतियों की समर्थक रही है, जिसके कारण गरीबी ,बेरोजगारी और भ्रष्टाचार बढ़ा है।उन्होंने कहा कि जनता की कठिनाइयां बढ़ाने के मामले में तो मोदी सरकार कांग्रेस से भी आगे निकल गई है। [NBT]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*