मुलायम के गुंडो का थाने मे लगा दरबार, अपने ही नेता को जूतो से पिटवाया

सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के एक नेता ने अपनी ही पार्टी के एक अन्य नेता को थाने में तरह-तरह से जलील किया। न केवल उस स्थानीय नेता को खुद अपने सिर पर जूते मारने को मजबूर किया गया बल्कि प्रभावशाली नेता के पैर पकड़ कर माफी भी मंगवाई गई। स्थानीय नेता का कसूर यह बताया जाता है कि उसने प्रभावशाली नेता के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली एक महिला का साथ देने की कोशिश की थी।

मिली जानकारी के मुताबिक यह कारनामा समाजवादी पार्टी के नगर अध्‍यक्ष सुजीत वार्ष्‍णेय का है। खबर है कि उन्होंने वृंदावन की बिहारीजी पुलिस चौकी में अपनी ही पार्टी के सभासद महेंद्र चौधरी को मजबूर किया कि वह अपने जूते उतार कर अपने ही सिर पर मारें। जब‍ गिनती 26 तक पहुंच गई, तब यह सीन खत्‍म हुआ।

गौरतलब है कि सभासद महेंद्र चौधरी को खुद यूपी सरकार ने जनप्रतिनिधि मनोनीत किया था। उनका कसूर सिर्फ इतना बताया जाता है कि जिस महिला ने समाजवादी पार्टी के नगर अध्‍यक्ष सुजीत वार्ष्‍णेय पर यौन उत्‍पीड़न का आरोप लगाया है, उसकी थोड़ी उन्होंने मदद करने की कोशिश की थी।

मामला हालांकि शनिवार का है, लेकिन एक मोबाइल क्‍लीपिंग के जरिए बुधवार को सामने आ गया। चार मिनट के इस विडियो क्लिप के अनुसार पुलिस चौकी में सपा नगर अध्‍यक्ष सुजीत वार्ष्‍णेय का दरबार सजा हुआ है। पुलिसकर्मी जी हुजूरी में लगे हैं। सामने फफक-फफक कर रोते हुए सभासद महेंद्र चौधरी है। गालियां सुनते हुए वह नेताजी के हाथ पैर जोड़ रहे हैं और रहम की भीख मांग रहे हैं।

चौधरी ने बताया कि बिहारीजी पुलिस चौकी के इंचार्ज छोटे लाल यादव शनिवार की शाम को घर से जबरन बुलाकर ले गए। इसके बाद पुलिस चौकी सपा नगर अध्‍यक्ष की जागीर बन गई थी। पूरा वाकया विडियो क्लिपिंग बता रही है। दरअसल, जब महेंद्र के साथ हद दर्जे की बदसलूकी हो रही थी, तब एक सपा कार्यकर्ता अपने मोबाइल में इसे रिकॉर्ड भी कर रहा था।

इस बारे में संपर्क करने पर एसएसपी गुलाब सिंह ने बताया कि मूल मामला महिला से यौन उत्‍पीड़न का है। महिला का साथ देने पर सभासद के साथ बदतमीजी की गई। वह भी इस विडियो क्‍लीपिंग को देखकर चकित हैं। उन्‍होंने बताया कि बिहारीजी पुलिस के प्रभारी दरोगा छोटे लाल यादव समेत तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। उन्‍होंने बताया कि इस मामले में आरोपी नेता के खिलाफ कार्यवाही चल रही है। [NBT]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*