फिर सुलगा मुजफ्फरनगर, 4 की मौत

दंगे की आग में झुलस कर 60 लोगों की जान गंवाने वाले मुजफ्फरनगर जिले में एक बार फिर नफरत की आग फिर भड़क गई है। भौराकलां थाना क्षेत्र में बुधवार शाम दो समुदायों की भिड़ंत में दोनों तरफ से गोलियां चलीं, जिसमें हुसैनपुर कलां गांव के तीन युवकों की मौत हो गई। इलाके में टकराव के हालात को देखते हुए आसपास के जिलों से फोर्स बुलाई गई है। समुदाय विशेष के सैकड़ों लोगों ने तीनों मृतकों को बेकसूर बताते हुए बुढ़ाना कोतवाली का घेराव किया। दूसरी घटना फुगाना क्षेत्र के हसनपुर गांव में हुई, जहां बाइक से जा रहे दंपती पर नकाबपोश बदमाशों ने गोलियां चलाईं और चाकू से हमला किया। हमले में महिला की मौत हो गई और पति गंभीर रूप से घायल है।

पहली घटना में बुधवार शाम को करीब 6 बजे हुई। पुलिस के मुताबिक, मोहम्मदपुर रायसिंह गांव निवासी एक सेवानिवृत्त फौजी अपने खेत पर पानी चलाने गए थे। तभी गन्ने के खेत में पहले से छिपे 10-11 नकाबपोश हथियारबंद लोगों ने उन्हें दबोच लिया और मारपीट शुरू कर दी। मारपीट देख एक दूसरे किसान ने फोन पर हमले की सूचना गांव वालों को दे दी। सूचना मिलते ही दर्जनों ग्रामीण लाठी-डंडे और हथियारों से लैस होकर पीएसी के जवानों के साथ खेत की ओर दौड़े। नकाबपोश बदमाशों ने ग्रामीणों पर फायरिंग कर दी, जवाब में दूसरी तरफ से भी फायरिंग हुई। आमने-सामने हुई फायरिंग में हुसैनपुर कलां गांव के तीन युवकों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक एक ही परिवार से ताल्लुक रखते हैं। हमले में कई युवकों के घायल होने की भी सूचना है।

भौराकलां पुलिस स्टेशन के इनचार्ज ओपी चौधरी ने बताया कि दोनों गांव के कुछ लोग विवाद के बाद हिंसा पर उतारू हो गए और एक-दूसरे को निशाना बनाते हुए हमले किए। वारदात की सूचना मिलते ही डीएम और एसएसपी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। मोहम्मदपुर राय सिंह में फौजी के घर से दो युवकों को हिरासत में लिया गया है। संवेदनशील थाना क्षेत्रों भौराकलां, फुगाना और शाहपुर इलाकों में सर्च अभियान चलाया गया। घटना के बाद से देहात क्षेत्र में तनाव है और टकराव के हालात बने हुए हैं। इसे देखते हुए मुख्य चौराहों और अतिसंवेदनशील इलाकों में चौकसी बढ़ा दी गई है। देर शाम सिटी मैजिस्ट्रेट ने फोर्स के साथ फ्लैग मार्च किया। आईजी मेरठ ब्रजभूषण शर्मा भी बुढ़ाना पहुंच गए हैं।

उधर, फुगाना इलाके में बाइक पर जा रहे दंपती पर नकाबपोश बदमाशों ने हमला कर महिला रीना की नृशंस हत्या कर दी, जबकि पति राजेंद्र कश्यप पर भी चाकुओं से कई वार किए। लिसाढ़ निवासी राजेंद्र पत्नी के साथ शामली में डॉक्टर को दिखाकर लौट रहे थे। राजेंद्र ने बताया कि हसनपुर-लिसाढ़ रोड पर अचानक आधा दर्जन हथियारबंद हमलावरों ने उन पर हमला बोल दिया। बाइक से गिरते ही रीना पर पहले चाकू से वार किया और फिर तमंचा कनपटी पर रखकर गोली मार दी। वारदात से नाराज हसनपुर-लिसाढ़ के सैकड़ों ग्रामीणों ने हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर देर रात तक पुलिस को शव नहीं उठाने दिया। []NBT

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*