एसपी ने आतंक और गुंडा गार्दी के प्रतीक अतीक अहमद को दिया सुल्तानपुर से टिकट

समाजवादी पार्टी ने सुल्तानपुर लोकसभा सीट के लिए पहले से घोषित उम्मीदवार को बदलकर क्रिमिनल बैकग्राउंड वाले पूर्व सांसद अतीक अहमद को टिकट दे दिया।

एसपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रामगोपाल यादव ने बताया कि पार्टी ने सुल्तानपुर लोकसभा सीट से अतीक अहमद को उम्मीदवार बनाया है। गौरतलब है कि साल 2004 में फूलपुर सीट से एसपी के सांसद रहे अतीक पर बीएसपी विधायक राजूपाल की हत्या समेत कई मामलों में 30 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं।

माफिया सरगना से राजनेता बने अतीक को एसपी ने साल 2008 में पार्टी ने निष्कासित कर दिया था। उन्होंने साल 2009 में हुआ पिछला लोकसभा चुनाव अपना दल के टिकट पर प्रतापगढ़ से लड़ा था जिसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

गैंगस्टर ऐक्ट से जुड़े मामले में फरार घोषित होने के बाद जनवरी 2008 में दिल्ली में गिरफ्तार किये गए अतीक को पिछले साल फरवरी में जमानत मिल गई थी।

कौन है अतीक अहमद
मूलत: इलाहाबाद के बाहुबली माफिया अतीक अहमद के बारे में एक कहावत मशहूर है…पढ़ाई में फिसड्डी, अपराध में अव्वल। तमाम माफियाओं की तरह अतीक ने भी क्राइम की दुनिया से पॉलिटिक्स का रुख किया और सबसे पहले सपा का ही दामन थामा।

दर्ज हैं 44 संगीन मुकदमे!
इसके बाद, 2009 लोकसभा चुनाव में अतीक ने अपना दल पार्टी के टिकट से प्रतापगढ़ में किस्मत आजमाई। हालांकि, यहां वह चौथे पायदान पर रहे। चुनाव के दौरान दिए एफिडेविट में बताया गया कि अतीक के खिलाफ 44 मामले दर्ज हैं।

इनमें हत्या से लेकर हत्या की कोशिश तक कई संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज है। अतीक पर गुंडा एक्ट, गैंगस्टर एक्ट, 7 क्रिमिनल लॉ अमेण्डमेण्ट एक्ट और आयुध अधिनियम के तहत कार्रवाई भी की जा चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*